Heart touching mother shayari in hindi | माँ के लिए कुछ लाइन

Heart touching mother shayari in hindi, माँ के लिए कुछ लाइन, एक मां ने हमेशा अपने बच्चों को निस्वार्थ प्रेम से पाला है, और उनके लिए बहुत दर्द सहन किया है। मां निस्वार्थ भक्ति और प्रेम का एक आदर्श उदाहरण है। एक माँ हमेशा अपने बच्चों के लिए उपलब्ध रहती है और उन्हें दुनिया की सारी खुशियाँ देती है।

Heart touching mother shayari in hindi

 

एक मुद्दत से मेरी माँ नहीं सोई ‘ताबिश ‘
मैंने एक बार कहा था,
मुझे डर लगता है|

कभी जाता हूँ खुदा के पास तो
भले ही तेरी फरयाद करता हूँ….

पर आज भी तेरा न बन सका
क्योंकि दर्द में मेरी माँ को याद करता हूँ… .

पहाड़ो जैसे सदमे झेलती है उम्र भर लेकिन,
इक औलाद की तकलीफ़ से माँ टूट जाती है…

तू हसीन है मगर अपने हुस्न से नहीं …
यह खूबसूरती पूछता था कोंन मेरी शायरी से पहले ….

बीवी, बेटी, बहन, पड़ोसन थोड़ी-थोड़ी सी
सब में दिन भर इक रस्सी के ऊपर चलती,
नटनी जैसी माँ…

बाँट के अपना चेहरा माथा आँखें
जाने कहाँ गई फटे पुराने इक एल्बम
में चंचल लड़की जैसी माँ…

तू हि मेरी जिंदगी
तू हि मेरी जान
तू हि मेरा सब कूछ
I love you,
मेरी माँ..

Heart touching mother shayari in hindi

तन जलाकर रोटियां पकाती है माँ,
नादान बच्चे अचार पे रूठ जाते हैं..

बालाएं आकर भी मेरी चौरवट से लौट जाती हैं,
मेरी माँ की दुआएं भी कितना असर रखती हैं।

भगवान हर जगह नहीं हो सकते,
इसलिए उसने माँ बनाय !

दफनाने के वास्ते हर कोई जल्दी में था,
एक माँ ही थी जो कफ़न छुपाए बैठी थी।

उसके होंठों पे कभी बहुआ नहीं होती,
बस इक माँ है जो कभी खफा नहीं होती !

पूछता है जब कोई मुझसे के दुनिया में मोहब्बत बची हैं ,
मुस्कुरा देता हूं मैं और याद आ जाती है मां!


किताबों से निकल कर तितलियाँ ग़ज़लें सुनाती हैं,
टिफ़िन रखती है मेरी माँ तो बस्ता मुस्कुराता है।

इसलिए चल न सका कोई भी खंजर मुझ पर,
मेरी शह-रग पे मेरी माँ की दुआ रखी थी।।।।

माँ के लिए कुछ लाइन

जमाना यूँ बदलता है वफा को भूल जाते हैं ।
सदा कमजोर ईशा ही जफा को भूल जाते हैं ।।

कभी जो पांच बेटों को अकेले पाल लेती थी।
यहाँ अब पांच बेटे ही वो माँ को भूल जाते हैं ।

तेरा चेहरा देखते ही
बुझती हुई उम्मीद की ज्योती फिर से लौ बन जाती है,
माँ…

तेरा चेहरा देखते ही
अपना चैन भुलाकर सुख दिया हमको,
खुद भूखे रहकर खाना दिया हमको,
सदा खुश रखना उन फरिश्तों को,
जिन मां-बाप ने जीवन भर की खुशियां दी तुमको।

जैसे चलाता हूँ..
वैसे चलती नहीं….
कोई कश्ती नहीं….
गर रूठता हूँ तो मनाती भी नहीं हाँ ये जिंदगी हैं.. ‘माँ’ नहीं…

Heart touching shayari in hindi 

माँ के लिए स्टेटस 2 line

जब तकलीफ हो जीने में तब…

मां को बसा लेना सीने में..!
दवाई काम नहीं आती तो नजर तक उतारती है वो मां है साहब ऐसे कहा हार मानती है…

माँ ना होती तो वफ़ा कौन करेगा,
ममता का हक़ भी अदा कौन करेगा।
रब हर माँ को सलामत रखना,
वरना हमारे लिए दुआ कौन करेगा।।

एक नाम है जिसमे सारी
कायनात समाई है,
इस दुनिया को दुनिया बनाने वाली मां है।

उम्र कोई भी हो लेकिन चोट लगने
पर दिल से पहला शब्द…
माँ ही निकलता है |

 

” मेरी माँ ने मुझे एक ही बात सिखाई है,
कि बेटा, कोई हाथ से छीन कर ले जा सकता है, लेकिन क़िस्मत से नहीं।

तुमसे रूठ कर तुम्हे सताना आता है मुझे,
पर माँ तुम कभी न रूठना मुझसे,
तुझसा कहां मनाना आता है मुझे।

मिलता है लोगों को ‘जीवन में प्रेम’,
मां को पाकर मैंने ‘प्रेम में जीवन’ पाया।
मेरे टूटे हुए ख़्वाबों की मरम्मत है वो,

मेरी हर हार-जीत की हिम्मत है वो….
रात को मेरी फ़िक्रों में जिसकी आंखें कभी सोयी नहीं…..,
फ़न से कहता हूं, मेरी अम्मी जैसा कोई नही…….

Heart touching mother shayari in hindi

मांग लो मन्नत की फिर यही जहा मिले….
की मांग लो मन्नत की फिर यही जहा मिले…
फिर वही गोद और फिर वही माँ मिले !!!

हर वक़्त खुद में वो खूबियां तलाश करता हूं,
जो मेरी मा मुझ में रोज़ देखा करती है।

“लोग बोलते हैं की बिना रोये
तो माँ भी अपना दूध नहीं पिलाती
ये तो फिर जिंदगी है जनाब
यहाँ रोना और खोना दोनों ही पड़ेगा”..

घर चाहे अपना ही क्या न हो बेघर सा लगता है,
जो मां ना हो घर पे,
तो आज भी डर सा लगता है..!!

बिन उसके मानो दुखो का बसेरा हो गया,
मां ने हाथ क्या फेरा जिंदगी का सवेरा हो गया।

मिलने को तो हज़ारो लोग मिल जाते हैं,
लेकिन हज़ारो गलतियां माफ़ करने वाले
“माँ-बाप” दुबारा नहीं मिलते।

लाल बिंदी और
काले सफेद बाल
ये. जो.
शाम का आसमां है ना वो माँ जैसा लगता है..

माँ के लिए दो शब्द

माँ के लोरी। मे जो सुकून है।
वो, आज के गानों में कहा।

ना कुछ बोल बात समझ ले।
वो, माँ ही तो है।


जब दवा काम न करे तो नज़र उतारती है।
वोह माँ ही होती है जनाब जो हार नहीं मानती है..!!

यह जो मां की मुहब्बत होती
है ना,
ये सब मुहब्बतों की मां
होती है।

संघर्ष पिता से सीखो….
और संस्कार मां से….
बाकी दुनिया खुद ही सीखा देगी..

काश! मैं होतीं मेरी माँ की परछाई,
जिसकी आँखों के काजल ने हर बुरी नज़र से बचाया ,

अंधेरी काली रातों में रोशनी को दिखाय,
सहीं ग़लत का फ़र्क़ समझाया,
मुझे एक अच्छा इंसान बनाया।

स्कूल का बोरी बस्ता,
मुझे फिर से थमा दे” माँ

कहते हैं की पहला प्यार कभी भुलाया नहीं जाता,
फिर पता नहीं लोग अपने माँ बाप का प्यार क्यूँ भूल जाते हैं !

Heart touching mother shayari in hindi

कदे घी कम पड़े,
कदे मीट्ठा कम रह ज्या मां बिना
तो यो चूरमा बढ़िया ना बणदा जिंदगी के खाक बढ़िया बनेगी!

कुछ इस तरह से माँ हर रोज दगा करती थी,
मैं टिफिन में दो रोटी कहता था वो चार रखा करती थी !

उसे कभी हँसते हुए रोते देखा है ।
तो कभी गुस्सा करते हुए प्यार जताते देखा है ।

अपने संतान का पेट भरते भरते
खुद ख़ाली पेट सोता देखा है ।

ऐसा एक फ़रिश्ता मैंने अपनी
माँ के रूप में देखा है।

दुनिया की हर नज़रों में मेरी कामयाबी खटकती है,
मगर दो आंखें ऐसी हैं जो मेरे इंतजार में मेरी राहें तकती हैं

दिल तोडना कभी सीखा नहीं मैंने ,
क्योंकि प्यार करना अपनी मां से सिखा…

सीधा साधा भोला भाला मैं ही सब से सच्चा हूँ
कितना भी हो जाऊं बड़ा माँ आज भी तेरा बच्चा हूँ. .

पूछता है दुनिया में जब कोई मुहब्बत कहाँ है!
मुस्कराता हूँ और याद आ जाती है माँ..

अपने माँ बाप की आँखे कभी भीगने मत देना !!
क्योंकि जिस घर की छत्त से पानी टपकता है,
उस मकान की दीवारें कमज़ोर हो जाती है ..!!!

माँ के लिए कुछ शब्द

माँ के बिना पूरा घर बिखर जाता है,
पापा के बिना तो पूरी दुनिया ही बिखर जाती है…

पहाडो जैसे सदमे झेलती है उम्र भर लेकिन,
इक औलाद की तकलीफ से माँ टूट जाती है।

कौन सी है वो चीज,
जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है पर माँ नहीं मिलती।

मेरे शब्दों में इतनी शक्ति नहीं है कि,
मैं माँ शब्द को पूरी तरह से समझा सकूं।

वो ढूंढने लगे जन्नत की राहें,
हमने मां की हंसी ढूंढ ली… ।

रूहानी कविताएं
माँ की तरह कोई और ख्याल रख पाए ,
बस ख्याल ही हो सकता है !

रूह के रिश्तो की यह गहराइयां तो देखिए ,
चोट लगती है हमें और दर्द माँ को होता है।

बहुत बेचैन हो जाता है जब कभी दिल मेरा,
अपने पर्स में रखी माँ की तस्वीर को देख लेता हूँ।

तेरी डिब्बे की वो दो रोटिया कही बिकती नहीं ,
होटलों में आज भी भूख मिटती नहीं..

 

जिंदगी की पहली Teacher माँ,
zindagi की पहली Friend माँ ,
जिंदगी भी माँ क्योंकि zindagi देने वाली भी माँ !

Heart touching mother shayari in hindi

शहर में आ कर पढने वाले ये भूल गए,
किस की माँ ने कितना जेवर बेचा था।

कदम जब चूमले मंज़िल तो जज़्बा मुस्कुराता है,
दुआ लेकर चलो माँ की तो रस्ता मुस्कुराता है।


नींद भी भला इन आँखों में कहाँ आती है,
एक अर्से से मैंने अपनी माँ को नहीं देखा।

जब जब कागज पर लिखा, मैने ‘माँ’ का नाम,
कलम अदब से बोल उठी, हो गये चारो धाम ।

मां एक बार मुस्कुरा दे तो जन्नत मिल जाये !
दुआ है रब से वो शाम कभी ना आए
जब माँ दूर मुझसे हो जाए।

ए मुसीबत जरा सोच के आ मेरे करीब,
कही मेरी माँ की दुआ तेरे लिए मुसीबत ना बन जाये।

यूं ही नहीं गूंजती किलकारियां घर आँगन के कोने में,
जान हथेली पर रखनी पड़ती है ‘माँ’ को ‘माँ’ होने में।

घुटनों से रेंग-रेंगते जब पैरों पर खड़ा हो गया,
माँ तेरी ममता की छाँव में, बड़ा हो गया।

वह माँ ही है जिसके रहते,
जिंदगी में कोई गम नहीं होता,
दुनिया साथ दे या ना दे पर,
का प्यार कभी कम नहीं होता।

मांगने पर जहाँ पूरी हर मन्नत होती है
के पैरों में ही तो वो जन्नत होती है. .

सर पर जो हाथ फेरे तो हिम्मत मिल जाये,
माँ एक बार मुस्कुरा दे तो जन्नत मिल जाये।

माँ के लिए कुछ लाइन Sad

मां के बिना,
मै कुछ भी नहीं…

मां की तरह कोई ख्याल रखे ये तो
बस ख्याल ही सकता हैं..!

मैं रात भर जन्नत की सैर करता रहा दोस्तो,
आँख खुली तो देखा मेरा सर माँ के गोद में था ।

ऊपर जिसका अंत नहीं उसे ‘आसमां’ कहते हैं,
इस जहाँ में जिसका अंत नहीं उसे ‘माँ’ कहते हैं।

मेरी तक़दीर में कभी कोई गम नही होता,
अगर तक़दीर लिखने का हक़ मेरी माँ को होता..

चलती फिरती आँखों से अज़ाँ देखी है,
मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखी है।


ना आसमां होता ना जर्मी होती,
अगर मां तुम ना होती।

किसी भी मुशकिल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
शायद अब घर से कोई मां के
पैर छूकर नहीं निकलता।

हादसों की गर्द से खुद को बचाने के लिए माँ !
हम अपने साथ बस तेरी दुआ ले जायेंगे. .

भूल जाता हूँ परेशानियां ज़िंदगी की सारी,
अपनी गोद में जब मेरा सर रख लेती है।

mother carrying baby

दिल तोडना कभी नहीं आया मुझे,
प्यार करना जो सीखा है माँ से ।

खूबसूरती की इंतहा बेपनाह देवी,
जब मैंने मुस्कुराती हुई माँ देवी ।

क्रोध में भी जिसके होठों पे मुस्कान रहती हैं,
गुस्से में भी वो प्यार ही करती हैं,

हरदम होठों पे जिसके दुआ रहती
ऐसा करने वाली सिर्फ माँ ही होती हैं !!

जो मांगू वो दे दिया कर ,
ए जन्दिगी तू बस मेरी माँ की तरह बन जा !

जिसके होने से मैं खुद को मुक्कम्मल मानता हूँ,
मेरे रब के बाद मैं बस अपनी माँ को जानता हूँ।

सबने बताया कि आज माँ का दिन है,
कौन बतायेगा कि ऐसा कौनसा दिन है जो माँ के बिन है..

माँ ही मेरी सबसे बड़ी दौलत है !
जन्नत का हर लम्हा,

दीदार किया था,
गोद मे उठाकर जब माँ ने प्यार किया था।

एक माँ से बेहतर कोई नहीं सीरवा सकता है|

लोग बोलते है,
जन्नत से खूबसूरत कुछ नहीं,
शायद उन्होंने कभी अपनी माँ को खुल कर हस्ते हुए नहीं देखा होगा…

मां और पापा का होना किसी खजाने से कम नहीं. .

ये जो माँ की मोहब्बत होती है न,
ये सब मोहब्बत की माँ होती है….

माँ के लिए स्टेटस 1 Line

ममता की देवी और स्नेह की देवी है माँ !

हर एक बात पे ज़िद्द,
हर एक बात पे नखरे..
यह बात तब तक हैं जब तक आप अपने माँ बाप के साथ रहोगे..!

खुद की हो या किसी और की माँ तो माँ होती है !

मुझे मुहब्बत हे अपने हाथों की सभी उंगलियो से…
ना जाने किस ऊँगली को पकड़ कर मेरे माँ बाप ने मुझे चलना सिखाया…


अपने बच्चो की हर दर्द को समझने वाली माँ।
फर्क नहीं पड़ता वो कितनी पढ़ी लिखी है,
मेरी मां है वो, मेरे लिए सबसे बड़ी है !
अगर तुम्हारा माँ से इतना प्यार होता,
तो बेटा आज ये वृद्धा आश्रम ना होता…..

 

 


माँ की जगह कोई नहीं ले सकता !
वो खामोशी को भी सुन लेती है,
और मेरी बेरुखी को भी सह लेती है,
मेरी मां है वो,
वह सब कर लेती है..।

बड़ा बनो पर उसके सामने नहीं जिसने तुम्हे बड़ा किया है|


माँ याद तेरी आई है सोने के लिए तेरी गोद नहीं रजाई है,
दुनिया की होड़ में तुझसे दूर हो गया ,
माँ ना जाने आंखे मेरी भरे आई है…
मां ही सब कुछ है !

अब हर चेहरे में कमी नजर आती है,
मैंने अपनी माँ को कुछ ज्यादा देख लिया ..

खुद मौत के मुँह में जाकर,
बच्चे को जीवन दान देती है ऐसी है वो शक्तिशाली माँ,
जो इतना महान काम कर देती हैं।

ज़िन्दगी की पहली टीचर माँ…
ज़िन्दगी की पहली फ्रेंड्स माँ…
ज़िन्दगी भी माँ…
क्योंकि ज़िन्दगी देने वाली भी माँ !!!

एक हस्ती जान है मेरी वो कोई और नहीं माँ है मेरी. .
है एक कर्ज़ जो हर दम सवार रहता है,

वो माँ का प्यार है. .
सब पर उधार रहता है !

“माँ”
सारी खुशियां नकली हैं,
असली जन्नत तो माँ के कदमों में हैं…..

जिन्हें मिली है,
कदर करो अपनी माँ की क्यूँकि
जिन्हें नहीं मिली वो अभी भी सदमो में है…

घर में चाहे दस कमरे हों लेकिन,
सबसे ज्यादा रौनक,
उस कमरे में होती है जिस कमरे में मां होती है. !!

हर एक बात पे ज़िद्द,
हर एक बात पे नखरे..

यह बात तब तक हैं जब तक आप
अपने माँ बाप के साथ रहोगे..!

एक हस्ती जान है मेरी वो कोई और नहीं माँ मेरी. ..

मेरी ख़्वाहिश है कि मैं फिर से फ़रिश्ता हो जाऊँ ..
माँ से इस तरह लिपट जाऊँ कि बच्चा हो जाऊँ !

वो लिखा के लायी है किस्मत में
जागना माँ कैसे सो सकेगी कि बेटा सफर में है…

माँ के लिए कुछ शायरी

‘माँ’
तेरी खामोशियों में भी तेरे दिल की बात वो समझ जाती हैं..
तभी तो माँ, इन्सान के रूप में भगवान कहलाती हैं…

हर तकलीफ़ अपनी सबसे छुपाती है
लाख गम हो फिर भी माँ मुस्कुराती है !

ये दो-चार दिनों वाला का प्यार थोड़ी है,
जिनके पैरों की हमारी सासें हर पल इबादत करती हैं,
उस माँ के लिए कोई एक दिन का त्योहार थोड़ी है…

मेरे वज़ूद की कहानी
वो मेरे सर पे जिसका साया हैं,
माँ तुझसे ये दुनिया मेरी,
तुझसे ही जीवन पाया हैं…

लोग बोलते है,
जन्नत से खूबसूरत कुछ नहीं,
शायद उन्होंने कभी अपनी माँ को खुल कर हस्ते हुए नहीं देखा होगा…

किसी भी मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता।
रूह के रिश्तो की यह गहराइयां तो देखिए चोट लगती है ,
हमें और दर्द माँ को होता है

मुझे मुहब्बत हे अपने हाथों कीसिखाया,
सभी उंगलियो से… ना जाने
किस ऊँगली को पकड़ कर मेरे
माँ बाप ने मुझे चलना सिखाया… .

सारी दुनिया फिकर करना छोड़ सकती है
लेकिन मेरी माँ नहीं !!

ए मुसीबत जरा सोच के आ मेरे
करीब कही मेरी माँ की दुवा
तेरे लिए मुसीबत ना बन जाये !!

हालातों के आगे जब साथ ना जुबाँ होती है ,
पहचान लेती है खामोशी में हर दर्द वह सिर्फ माँ होती हैं

मां ने लिखा है ख़त में जहाँ जाओ खुश रहो ,,
मुझ को भले न याद करो…

ममता की देवी और स्नेह की देवी है माँ !

मेरे दिल का बस यही है कहना,
ओ माँ तुम बस ऐसी ही रहना !!

यूं ही नहीं गूंजती किल्कारीयां घर आँगन के हर कोने मे,
जान हथैली पर रखनी पड़ती है ‘माँ’ को ‘माँ’ होने मे…

दुनिया का सबसे प्यारा शब्द
माँ ।

जज्बात अलग है पर बात तो एक हैं,
उसे माँ कहू या भगवान बात तो एक है ।

माँ और बेटी का रिश्ता दुनिया का सबसे
अनमोल और प्यारा रिश्ता है..

मां के चरणों मे स्वर्ग है…

माँ शायरी इन हिंदी
घर में चाहे दस कमरे हों लेकिन,

सबसे ज्यादा रौनक,
उस कमरे में होती है जिस कमरे में मां होती है. !!

बहुत याद आती है घर वालों की,
माँ के हाथ के पराठे की,
पापा के डर से जल्दी उठ जाने की…

मेरे पापा बहुत अमीर तो नही है ,
मगर फिर भी मेरी सारी जिद पूरी करते हैं… .

मृत्यु “के लिए बहुत से रास्ते है ,
किन्तु जन्म लेने के लिये केवल ” माँ ” है… .

बनके “शहजादा” दिल की हुकूमत में रहा,
मां तेरी गोद में जब तक रहा “जन्नत” मे रहा . .

यही सबब है कि बरकत हमेशा रहती है ,
मैं अपने पर्स में तस्वीर माँ की रखता हूँ…

मेरी तकदीर में एक भी गम ना होता,
अगर तकदीर लिखने का हक मेरी माँ को मिला होता..

मैं ना प्यार का भूखा हूं ना मुझे तेरी भूख है,
तू अगर छोड़ भी जाए तो मुझे क्या दुख है,
मुझे जीने के लिए किसी शरीर की जरूरत नहीं मेरे साथ मेरी मां का सुख है..

माँ मुस्कराती हैl
मे हर गम भूल जाता हू !

माँ का कोई दिन नही होता है,
ज़िन्दगी का हर पल माँ के लिए होता है….

यक़ीनन माँ के आँचल तले मैं कभी रो नहीं सकता,
तभी तो माँ की जगह ख़ुदा भी हो नहीं सकता..


मुझे किसी और जन्नत का नहीं पता,
क्योंकि हम माँ के कदमों को ही जन्नत कहते हैं…

बेहद मीठा कोमल होता है,
मां के प्यार से ज्यादा कुछ नहीं अनमोल होता है..

एक हस्ती जान है मेरी वो कोई और नहीं माँ मेरी. .

 

Leave a Comment