विश्वास पर धोखा शायरी 2 line

अक्सर जिन लोगों पर जितना विश्वास किया जाता है ना जाने भरोसा तोड़ने का हुनर उनमे ही क्यू आ जाता है

हमें भी हुई थी मोहब्बत किसी से लेकिन जिस शख्स से हुई थी वो मोहब्बत में धोखा देने वाला निकला |

गर रिश्तों को लम्बे समय तक बनाये रखना है तो जिन्दगी में रिश्ते के साथ भरोसे को भी जोड़ना होगा।

किसी ने पूछा क्या चीज़ बिना सोचकर करते हो हमने कहा अपनों पर विश्वास

मोहब्बत सीखा कर जुड़ा हो गए न सोचा न समझा खफा हो गए दुनिया में किसको हम अपना कहे अगर तुम बेवफा हो गए।

बेवफा दुनिया में कौन सारी जिंदगी साथ देगा तेरा, लोग तो दफना कर भूल जाते हैं कि कब्र कौन सी थी।

Read More