शब्द जो दिल को छू जाए

टूटे हुए काँच की तरह चकनाचूर हो गए, किसी को लग ना जाये इसलिए सबसे दूर हो गए।

मोहब्बत की ये सारी रस्मों को तोड दूं तू दिल मे रख ले तो मैं ये जमाना छोड दूं..

जब जब तुम होगे तनहा, मैं साथ रहूँगी… न रहूँ जहाँ मे फिर भी बन के अहसास रहूँगी

अच्छा करने के लिए अपने दिल को लगाओ, इसे बार बार करो और फिर तुम #आनंद से भर जाओगे

अब कोई हसरत ना रही #किसी से वफा़ पाने की, दिल इस कद्र टूट गया जररत ना रही #दर्द बताने की..!!

तेरी एक झलक के लिए तरस जाता हूँ, खुश किस्मत है वो लोग जो तुझे रोज देखते है।

Read More